Subscribe for
Trending Today
Advertisement
https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({});

सिरोही जिले में कोरोना ने पुरे डिपार्टमेंट को अपनी चमेट में ले लिया है, शनिवार शाम को आई रिपोर्ट में कलेक्टर समेत पूरा प्रशासन अमला पॉजिटिव आने से हड़कंप मच गया। नए संक्रमितों में कलेक्टर भगवती प्रसाद समेत उनकी पत्नी, बच्ची, ड्राइवर, गनमैन और पीए, एडीएम गीतेश श्रीमालवीय, एसडीएम हसमुख कुमार समेत उनकी पत्नी, बच्चा व बच्ची और ड्राइवर, तहसीलदार नीरज कुमारी, कोतवाली थानाधिकारी अनिता रानी समेत कलेक्ट्रेट ऑफिस व बंगले के 30 लोग शामिल हैं।

एसडीएम हसमुख कुमार की तबीयत 2-3 दिन से खराब थी, जिसे देखते हुए कलेक्टर भगवती प्रसाद ने कलेक्ट्रेट ऑफिस व बंगले के अधिकारियों व कर्मचारियों की शुक्रवार को सैंपलिंग करवाई थी। शनिवार शाम को आई रिपोर्ट में ये सभी पॉजिटिव निकले।
ओपीडी की गैलरी में लगाने पड़े 9 बेड, 134 नए पॉजिटिव: जिले में कोरोना खतरनाक रूप लेता जा रहा है। 100 बेड का जिला कोविड अस्पताल फुल हो जाने से ओपीडी ब्लॉक की गैलरी में 9 अतिरिक्त बेड लगाने पड़े। ओपीडी में लगाए बेड पर संदिग्ध मरीजों को भर्ती किया गया।

शनिवार को आई रिपोर्ट में 124 नए पॉजिटिव सामने आए। नए संक्रमितों में सबसे ज्यादा सिरोही ब्लॉक में 49 केस मिले। इसी तरह शिवगंजरेवदर ब्लॉक में 34-34 पिंडवाड़ा में 9 और 8 अन्य जगहों के पॉजिटिव आए है। जिला कोविड अस्पताल में भर्ती एक संदिग्ध मरीज की मौत हो गई।

संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए लगाए गए वीकएंड कर्फ्यू के पहले दिन जनता ने पूरा साथ दिया और बाजार से लेकर सबकुछ बंद रहा। कोरोनाकाल में पहली बार 100 बेड का जिला कोविड अस्पताल शनिवार को फुल हो गया, जिसकी वजह से ओपीडी ब्लॉक की गैलरी में 9 अतिरिक्त बेड लगाने पड़े। अस्पताल में 25 पॉजिटिव मरीज भर्ती है, इनमें से 7 वेंटिलेटर पर है। जबकि, 67 संदिग्ध मरीज भर्ती हैं, इनमें से 39 ऑक्सीजन सपोर्ट पर हैं।

पूरे जिले में सिर्फ सिरोही कोविड अस्पताल में ही ऑक्सीजन संसाधन उपलब्ध होने से यहां मरीजों का दबाव बढ़ गया है। जिले में कोरोना के सबसे खराब हालात आबूरोड के हैं और जिला मुख्यालय स्थित कोविड अस्पताल में ऑक्सीजन पर निर्भर सबसे ज्यादा मरीजों की संख्या भी आबूरोड की है। यहां का दबाव कम करने के लिए अब आबूरोड में भी 150 बेड का आइसोलेशन वार्ड तैयार किया है, जहां 80 सिलेंडर भेजे गए हैं। इधर, जिला कोविड आईसीयू वार्ड प्रभारी डॉ. प्रदीप चौहान की तबीयत बिगड़ गई है।

सिरोही अस्पताल में ही सुविधाएं इसलिए, यहां पर बढ़ा दबाव

  1. एमडी फिजिशियन सिर्फ यहीं: सिरोही अस्पताल को छोड़कर अन्य सरकारी अस्पतालों में एमडी फिजिशियन नहीं हैं।
  2. ऑक्सीजन की सुविधा: जिला अस्पताल के अलावा अन्य अस्पतालों में ऑक्सीजन इक्यूप्ड बेड की सुविधा नहीं है।
  3. रेमडेसिविर इंजेक्शन: लंग्स इंफेक्शन में दिया जाने वाला रेमडेसिविर इंजेक्शन जिला मुख्यालय पर ही लगाने के निर्देश हैं।
    जिला कोविड पर बढ़ते दबाव को देखते हुए अब आबूरोड में 150 बेड का अस्पताल शुरू किया है। वहां ऑक्सीजन की सुविधा के लिए 80 सिलेंडर भेजे गए हैं। एक सिलेंडर से दो मरीजों को ऑक्सीजन दी जा सकेगी। सिरोही अस्पताल में आबूरोड के ही ज्यादा मरीज भर्ती हो रहे हैं।

Source : Dainik bhaskar / Google

https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({});

Leave a Reply

Enable Notifications    OK No thanks