Subscribe for
Trending Today
Night Curfew in Rajasthan
Advertisement
https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({});

हाइलाइट्स –

  • जयपुर, अजमेर, भीलवाड़ा, जोधपुर, कोटा, उदयपुर, सागवाड़ा और कुशलगढ़ में लगा नाईट कर्फ्यू।
  • आज, यानि 22 मार्च से शुरू होगा नाईट कर्फ्यू।
  • रात 11 बजे से सुबह 5 बजे तक लागू रहेगा कर्फ्यू।
  • दूसरे राज्यों से आने वालो को RTPCR की नेगेटिव रिपोर्ट लाना अनिवार्य, वरना 15 दिन का क्वारंटाइन।
  • पिछले 5 दिनों में 184% की दर से बढे कोरोना के नए मामले।

पिछले कुछ दिनों में राज्य में कोरोना के मामलो में उछाल देखने को मिली है। बाईट 70 दिनों के बाद एकदम से बढे कोरोना को रोकने के लिए राज्य सरकार ने कुछ अहम कदम उठाये है। राज्य के 8 शहर, जयपुर, अजमेर, भीलवाड़ा, जोधपुर, कोटा, उदयपुर, सागवाड़ा और कुशलगढ़ में 22 मार्च से रात 11 बजे से सुबह 5 बजे तक नाईट कर्फ्यू रहेगा। इमरजेंसी सेवाओं को छोड़कर अन्य सभी सेवाए बंद रहेगी। रविवार को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की अध्यक्षता में हुई कोरोना कोर ग्रुप की बैठक में फिर से सख्ती करने का फैसला किया गया। शनिवार को बीते 70 दिन का रिकॉर्ड टूटा था। राज्य में एक दिन में 445 नए संक्रमित मिले थे। इसके अलावा, हर हफ्ते प्रदेश में कोरोना के नए केस 29% की दर से बढ़ रहे हैं। कोरोना केस इसी गति से बढ़े तो मार्च के आखिरी तक पिछले साल मई जैसे हालात हो जाएंगे।

बाहर से आने वालो को दिखानी होगी नेगेटिव रिपोर्ट, वरना 15 के क्वारंटाइन में रहना होगा

दूसरे राज्यों से राजस्थान आने वाले सभी यात्रियों को 25 मार्च से 72 घंटे के भीतर की आरटीपीसीआर टेस्ट की निगेटिव रिपोर्ट दिखाना अनिवार्य होगा। बिना रिपोर्ट के आये यात्रियों को 15 दिन के लिए क्वारेंटाइन में रहना होगा। सभी जिलों में कलेक्टर संस्थागत क्वारेंटाइन की व्यवस्था भी फिर से शुरू करेंगे। पहले केरल, महाराष्ट्र, गुजरात, पंजाब, हरियाणा, मध्यप्रदेश से आने वाले लोगों के लिए ही आरटीपीसीआर की निगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य थी। अब सभी राज्यों के लिए इसे अनिवार्य किया गया है। एयरपोर्ट, बस स्टैण्ड और रेलवे स्टेशन पर यात्रियों की होगी जांच।

फिर बनाये जाएंगे मिनी कन्टेंटमेंट ज़ोन –

संक्रमण रोकने के लिए फिर से शुरू होगी मिनी कन्टेंटमेंट जोन की व्यवस्था। जहां भी 5 से अधिक पॉजिटिव केस पाए जायेंगे, वहां उस क्लस्टर या अपार्टमेंट को कंटेनमेंट जोन घोषित किया जाएगा। बीट कांस्टेबल की निगरानी में कंटेनमेंट की सख्ती से पालना कराई जाएगी।

Primary School रहेंगे बंद, बाकी स्कूल कॉलेज में 50% उपस्थिति –

प्रदेश में प्राथमिक स्कूल अगले आदेश तक बंद रहेंगे। इससे ऊपर की कक्षाओं और कॉलेजों में 50% से ज्यादा छात्र नहीं आ सकेंगे। स्कूल आने वाले छात्रों की स्क्रीनिंग और रेंडम टेस्टिंग अनिवार्य होगी। अभिभावकों की लिखित सहमति से ही बच्चे स्कूलों में आ सकेंगे।

नाईट कर्फ्यू से किसे राहत, कौन से व्यवसाय नहीं होंगे बाधित –

नाइट कर्फ्यू की बाध्यता उन फैक्ट्रियों पर लागू नहीं होगी, जिनमें लगातार उत्पादन होता है और जहां नाइट शिफ्ट की व्यवस्था है। इसके अलावा, आईटी कंपनियां, रेस्टोरेंट, केमिस्ट शॉप (मेडिकल), अनिवार्य और आपातकालीन सेवाओं से संबंधित दफ्तर, बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन और एयरपोर्ट से आने-जाने वाले यात्री, माल परिवहन करने वाले वाहन, लोडिंग और अनलोडिंग में काम करने वाले व्यक्ति नाइट कर्फ्यू की व्यवस्था से मुक्त रहेंगे।

Sources: Dainik Bhaskar/Google News

https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({});

Leave a Reply

Enable Notifications    OK No thanks